राष्ट्रपिता महात्मा गांधी की पुण्यतिथि (Mahatma Gandhi Death Anniversary)

Updated : Jan 10, 2021 12:11 AM

राष्ट्रपिता महात्मा गांधी की पुण्यतिथि  (Mahatma Gandhi Death Anniversary)-

30 जनवरी यानी आज राष्ट्रपिता महात्मा गांधी की पुण्यतिथि है। नाथूराम गोडसे ने 30 जनवरी 1948 की शाम गोली मारकर राष्ट्रपिता महात्मा गांधी की हत्या कर दी थी। महात्मा गांधी की पुण्यतिथि को शहीद दिवस (Martyr Day) के रूप में हर साल 30 जनवरी को मनाया जाता है और इस अवसर पर देशभर में श्रद्धांजलि सभाएं आयोजित की जाती हैं। भारतीय स्वतंत्रता संग्राम के सबसे प्रमुख नेताओं में शुमार गांधी जी को लोग प्यार से बापू भी कहते थे। गांधी जी एक ऐसी महान शख्सियत थे, जिन्होंने सत्य और अहिंसा के मार्ग पर चलते हुए देश को अंग्रेजों की गुलामी से आजादी दिलाने में अहम भूमिका निभाई थी। राष्ट्रपिता महात्मा गांधी सिर्फ एक नेता या स्वतंत्रता सेनानी नहीं थे, बल्कि वे एक निष्काम कर्मयोगी और युगपुरुष थे। महात्मा गांधी भारतीय स्वतंत्रता आंदोलन के प्रमुख नेता थे। भारत की आजादी में गांधी ने बेहद अहम भूमिका निभाई थी और देश की आजादी के लिए वो कई बार जेल भी गए थे। गांधी जी जितने महान थे, उनके विचार भी उतने ही महान थे। उनके अनमोल विचार आज भी सत्य और अहिंसा का संदेश देते हैं। महात्मा गाधी की पुण्यतिथि पर आप उनके इन महान विचारों से सत्य और अहिंसा के मार्ग पर चलने की प्ररेणा ले सकते हैं।

राष्ट्रपिता महात्मा गांधी के अनमोल विचार (Mahatma Gandhi's Thoughts in Hindi) :-

''पाप से घृणा करो पापी से नहीं।''

''ऐसे जिएं जैसे कि आपको कल मरना है और सीखें ऐसे जैसे आपको हमेशा जीवित रहना है।''

''डर शरीर की बीमारी नहीं है, यह आत्मा को मारता है।''

''विश्वास करना एक गुण है, अविश्वास दुर्बलता की जननी।''

''आजादी का कोई मतलब नहीं, यदि इसमें गलती करने की आजादी शामिल न हो।''

''जो समय बचाते हैं वे धन बचाते हैं और बचाया धन कमाए हुए धन के समान महत्वपूर्ण है।''

''प्रसन्नता ही एकमात्र ऐसा इत्र है जिसे आप दूसरों पर छिड़कते हैं तो कुछ बूंदे आप पर भी पड़ती हैं।''

''मैं सिर्फ लोगों के अच्छे गुणों को देखता हूं, ना की उनकी गलतियों को गिनता हूं।''

''अहिंसा मानवता की सबसे बड़ी ताकत है, यह विनाश के लिए बने ताकतवर हथियार से अधिक शक्तिशाली है।''

''मौन सबसे सशक्त भाषण है, इसलिए मौन रहिए धीरे-धीरे पूरी दुनिया आपको सुनेगी।''

''थोड़ा सा अभ्यास बहुत सारे उपदेशों से कही ज्यादा बेहतर है।''

''खुद को खोजने का सबसे अच्छा तरीका है, खुद को दूसरों की सेवा में खो दो।''

''स्वयं वो बदलाव बनिए, जो आप दुनिया में देखना चाहते हैं।''

''हज़ारों लोगो द्वारा कुछ सैकड़ों की हत्या करना बहादुरी नहीं है, ये कायरता से भी बदतर है ये किसी भी राष्ट्रवाद और धर्म के विरुद्ध है।''

''अधभूखे राष्ट्र के पास न कोई धर्म, न कोई कला और न ही कोई संगठन हो सकता है।''

''क्रूरता का जवाब क्रूरता से देने का अर्थ अपने नैतिक और बौद्धिक पतन को स्वीकार करना है।''

''जब कोई युवक दहेज़ के लिए शर्त रखता है तब वो न केवल अपनी शिक्षा और अपने देश को बदनाम करता है बल्कि स्त्री जाती का भी अपमान करता है।''

''आंख के लिए एक आंख ही पूरी दुनिया को अंधा बना देती है।''

''मेरी अनुमति के बिना कोई भी मुझे चोट नहीं पहुंचा सकता।''

''मेरा जीवन मेरा संदेश है।''

''किसी चीज़ में विश्वास करना, और उसे न जीना, बेईमानी है।''

''भविष्य इस बात पर निर्भर करता है कि हम वर्तमान में क्या करते हैं।''

'' कमजोर कभी माफ़ नहीं कर सकता। क्षमा ताकतवर की विशेषता है।''

''हालाँकि हम उसे एक हजार नामों से जानते हैं, वह हम सबके लिए एक है।''

''सौम्य तरीके से, आप दुनिया को हिला सकते हैं।


Sharing Is Caring

Please share this article to express your love. Also Follow us on Facebook, Instagram & Pinterest.

Related Posts :